stomach fat कम कैसे करें






शरीर में फैट कैसे बनता ह ै?



शरीर में फैट कैसा बनता है यह बहुत सारे लोगों को पता नहीं होता और कुछ लोगों को यह पता भी होता है लेकिन वह इन बातों पर ध्यान नहीं देते इसकी वजह से उनका वजन बढ़ना, पेट का बाहर आना इन समस्याओं  से वह लोग सामना करते हैं | महत्वपूर्ण बात ये है की ग्लाइकोजन की वजह से हमारे बॉडी में फैट बनता है |आइये जानते है ग्लाइकोजन क्या होता है |
                     

ग्लाइकोजन क्या होता है?



ग्लाइकोजन मतलब जहां आपका ग्लूकोज जमा होता है | जहां पर आप की एनर्जी जमा होती है हमारे बॉडी के अंदर उसे ग्लाइकोजन कहते हैं|


मतलब जब आप कार्बोहाइड्रेट्स खाते हैं  कार्ब खाने के बाद वह कार्ब आपके पेट ने ब्रेक किया ग्लुकोज में, कार्ब जब ब्रेक होता है, तो वहां ग्लुकोज में  रूपांतरित होता है, ग्लूकोज आपके ब्लड स्ट्रीम में जाता है या तो आप उस ग्लूकोज को ऊर्जा के माध्यम से बर्न करते हो या फिर आपकी बॉडी वहां पर जमा कर देती है ग्लाइकोजन में फैट के स्वरुप में |


बॉडी फैट कैसे कम करें?

बॉडी फैट कम करने के लिए और लव हैंडल (साइड बेली फैट) का फैट और लोवर बेली फैट कम करने के लिए आपको क्या करना पड़ेगा बहुत ही आसान है…. also read

हमेशा ग्रीन वेजिटेबल्स जो आप नहीं खाते | कच्ची वेजिटेबल्स पकाये हुआ नहीं, हमेशा कच्चे हरि सब्जियों (वेजिटेबल) का अपने डाइट में शामिल करें |आपको पता होगा कि यह कितना कठिन होता है करना कच्चे वेजिटेबल्स खाना |


आपको कच्चे हरि सब्जियोंका (वेजिटेबल्स) का इस्तेमाल रात के भोजन से पहले आधा घंटा पहले खाना चाहिए अपने दोपहर के खाने से पहले आधे घंटे पहले खाना चाहिए सेहत के लिए अच्छा होता है|


बंद गोभी,गाजर मूली खीरा यह कच्ची खा सकते हैं और आपको पता होगा कि यह इसमें हाय नूट्रिएन्ट (high nutrients)  होते है जैसे भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स, फायबर, विटामिन, मिनरल्स आदि जो आप सारा दिन खाना खाते हैं (big meals) जैसे रोटी, चावल, आलू यह वह उसके अंदर आपको यह नुट्रिएंट्स (nutrients) नहीं मिलेंगे जो आपको वेजिटेबल्स के अंदर मिलेंगे तो आपको यह मालूम होना चाहिए कि कच्ची वेजिटेबल कितनी लाभदायक है हमारे शरीर के लिए |


WHO (World Health Organisation) विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट है  कि इंडिया में से 20 लोगो में से 19 लोग कच्चे वेजिटेबल्स ,फलो का सेवन नहीं करते, यदि पकाई हुई वेजिटेबल्स की बात करें तो आप जब पकाते हो तो उसको पकाते समय उसका आधा पोषक तत्त्व (NUTRIENTS)  वैसे भी चला जाता है, तो आप क्या कर रहे हो आप सिर्फ अपना पेट भरने के लिए खा रहे हो, इससे आपको आपके बॉडी ब्रेन किसी को भी फायदा नहीं मिल रहा क्योंकि आपको पोषक तत्त्व चाहिए आपके बॉडी पार्ट्स के लिए  किडनी, ऑर्गन, लंग्स, दिल उसके लिए आपको पोषक तत्त्व (न्यूट्रिएंट्स) चाहिए |also read


कच्चे वेजिटेबल्स WHO के सर्वे अनुसार 20 में से 19 लोग कच्चे वेजिटेबल्स नहीं खाते | आप  कच्चे वेजिटेबल का इस्तेमाल जरूर करें आपके डाइट में, रात के खाने से पहले बंद गोभी का एक कप, बंदगोभी को अच्छे से सलाड के रूप में अच्छे से काट कर ले उसके अंदर खीरा डाले ,टोमेटो ऐड करे उसके अंदर गाजर ऐड करें जो आप ऐड करना चाहते हैं

यह चार वेजिटेबल्स हमारे स्वाद के लिए भी अच्छी  होती है | यह कच्चे वेजिटेबल्स आपके रात के खाने और दुपहर के भोजन के बाद खाएं और उसके बाद आपका भोजन करें तो आप देखेंगे कुछ दिनों में आपका बेली फैट , लव हैंडल को कम करने में मदद करेगा |

बॉडी फ़ैट काम करने में एक्सरसाइज की बात करे तो एक्सरसाइज भी महत्वपूर्ण रोल होता है अगर एक्सरसाइज के लिए टाइम ना मिले  तो जंक फूड से दूर रहे या फिर उसका प्रमाण कम कर दे | और कार्बोहाइड्रेट वाले पदार्थ का सेवन कम और प्रोटीन वाले पदार्थ की मात्रा बढ़ा दे |पूरे हफ्ते में कार्बोहाइड्रेट वाले पदार्थ की मात्रा 2 दिन रखें ( कौन से भी) और 5 दिन प्रोटीन वाले पदार्थ का सेवन ज्यादा करें ( कार्बोहाइड्रेट के साथ) ऐसा अपना हफ्ते भर का शेडूल बना ले |also read


फैट कम करने के लिए ग्रीन-टी इस्तेमाल करे


ग्रीन टी हमारे शरीर के लिए ज्यादा ही  फायदेमंद होती है | इसकी लिस्ट देखी जाए तो बहुत ही लंबी है|
कैंसर, एन्टी-कैंसर यह ग्रीन टी है जिनको कैंसर की प्रॉब्लम है या आने वाले समय में आने वाले कैंसर से बचना है जैसे प्रोस्टेट कैंसर, यकृत कैंसर, फेफड़ों का कैंसर, ब्लेडर कैंसर, स्किन कैंसर आपके बॉडी में जो ट्यूमर बनता है  उससे बचने में और यह सारे कैंसर से बचने के लिए ग्रीन टी बहुत ही फायदेमंद है| also read


ग्रीन टी यह एंटीऑक्सिडेंट्स में उच्च होता है | जो लोग बीमार पड़ते हैं जो बॉडी ऑक्सीडेंट बनते हैं हमारे बॉडी में उसको निकालने में मदद करते हैं |


ग्रीन टी जिन लोगों के दांतों में छेद  है उसको भरने में हेल्प करती हैं | ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम है उसमें हेल्प करते हैं, हार्ट की प्रॉब्लम है उसमें हेल्प करते हैं, हमारे पेट के चर्बी कम करने में हेल्प करते हैं | अलग-अलग चीजों में अलग-अलग तरह से हेल्प करते हैं |

आपकी रोग प्रतिरोधक शक्ति में , हेल्थ प्रॉब्लम में जिनको डायबिटीज की प्रॉब्लम है, ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम है उसके लिए भी बहुत ही फायदेमंद है | जो ग्रीन टी का फायदा है वह बहुत ज्यादा है | इसको हर कोई पी सकता है | बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक इसको हर कोई भी सकता है अपने डाइट में ऐड करें इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है |

यह  ग्रीन टी एक नेचुरल है |  ग्रीन टी नेचुरल है, इसको दिन में तीन या चार बार करें आपके बेली फैट कम करने में भी मदद करेगा | also read


फैट कम करने के लिए कुछ टिप्स:-


  • 1) सुबह उठते ही दिन की शुरुआत एलोवेरा जूस और आमला जूस के साथ करे , एलोवेरा और आंवला जूस के अंदर भरपूर मात्रा में विटामिन होते हैं और इन विटामिन के अंदर होते हैं बहुत सारे महत्वपूर्ण एंटीऑक्सीडेंट यह हमारे शरीर  से टॉक्सिक को निकालने में मदद करते हैं, जिससे कि हमारे पचन संस्था सुधार जाता है,also read और हमारे वजन कम करने में मदद करने में सहायक होता है |also see

  • 2) वजन कम करने में या हमारा बॉडी फैट कम करने में गर्म पानी का बहुत महत्वपूर्ण भूमिका होती हैं | सुबह उठते ही गर्म पानी पीने से शरीर का तापमान और मेटाबोलिक रेट बढ़ जाता है, जिससे कि बॉडी ज्यादा कैलरी बर्न करती है, और हमारा वेट लूज करने में मदद करते हैं|

  • 3) मनुष्य द्वारा निर्माण (Artificial) किये गए मीठे पदार्थों का सेवन कभी भी ज्यादा प्रमाण में नहीं करना चाहिए | कोल्ड ड्रिंक कोल-प्रोडक्ट जितने भी बिस्किट है इनके अंदर कोई भी फाइबर नहीं होता इसकी वजह से यह हमारे बॉडी में आसानी से घुल जाते हैं, और इंसुलिन बहुत ज्यादा हो जाता है और शुगर बॉडी के अंदर आ जाते हैं और एक स्तर के बाद जब शरीर को शुगर की जरुरत नहीं होती है तो बची हुई ब्लड के अंदर जो शुगर होती हैं उसको  फैट में जमा कर देती हैं | इसीलिए आपको किसी भी आर्टिफिशियल इन चीजों का सेवन कम करनी होगी या फिर बंद करें पूरी तरह से बंद कर दे |

  • 4) किसी भी तरह का तला हुआ पदार्थ जैसे की चिप्स, स्नेक्स , समोसे इन सब को बिल्कुल दूर  करना होगा इसके पीछे का कारण यह है कि, एक तो यह यह रिफाइंड ऑयल में बनते हैं जो हमारे सेहत के लिए बिल्कुल ठीक नहीं है | और दूसरा तले हुए पदार्थ में कैलोरी बहुत अधिक होती है जितने कि हमारे बॉडी को जरूरत नहीं होती फिर भी इनको खाने के वजह से बहुत ज्यादा कैलोरी मिलती है और उससे वजन ज्यादा बढ़ जाता है |

  • 5) आपको वेजिटेबल्स और फलो का सेवन ज्यादा करना है |  वेजिटेबल्स और फलों में फाइबर ज्यादा मात्रा में होता है और कैलोरी कम होती है विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट  ज्यादा होते हैं | यह आपके पचन संस्था को बेहतरीन बनाते हैं और आपको कम खाने में भी पेट भरा हुआ लगता है |

  • 6) आपको खाते समय बहुत अच्छी तरह से चबाकर खाना चाहिए | ज्यादा चबाकर खाने से हमारे मुंह में सलाइवा  की निर्मिती ज्यादा होती है, जो कि आपका खाना पचने के लिए आपके आंकड़ों मैं जाता  है तो पाचनक्रिया अच्छी तरह होती है | इससे आपको बॉडी आपके पोषक तत्त्व (nutrients) ज्यादा सोख लेती (absorb) है और आपको जिंदगी में कभी कब्ज का प्रॉब्लम नहीं होगा |

  • 7) आपको रोज सुबह कपालभाति प्राणायाम जरूर करना चाहिए | कपालभाति एक चमत्कारिक प्राणायाम है  इस प्राणायाम के अंदर क्षमता है शरीर को बराबर करने की | यानी किसी का वेट बढ़ा हुआ है तो इसे करने से वह कम  हो कर नॉर्मल जितना हो जाएगा और जिसका कम है तो उसका बढ़कर नॉर्मल हो जाएगा | साथ ही साथ हमारे पूरे बॉडी में जितने भी हार्मोन सिस्टम है सभी को बैलेंस आउट करता है | ताकि आपकी बॉडी एक ऑप्टिमम वे में काम कर सके | also read

  • 8) दिन में आपको जब भी टाइम मिले जब भी आपका पेट खाली हो तो 15-20 मिनट आपको योगासना जरूर करना चाहिए | योगा बहुत ही बढ़िया व्यायाम है पूरे आपके बॉडी को खिंचाव  कर पाती हैं, जिससे हमारी कैलरीज बर्न करने में और साथ ही साथ हमारी बॉडी को लचीला बनाती है|

Previous
Next Post »