बाइसेप्स कैसे बनाये | how to grow biceps size in hindi

Share:

बाइसेप्स कैसे बनाये | How to Grow Biceps Size 

 दोस्तों इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि आप का साइज बढ़ाने के लिए क्या-क्या करना पड़ता है और आर्म्स साइज बढ़ाते वक्त लोग क्या-क्या गलतियां करते हैं तो आइए जानते हैं सबसे पहले हर वह रीजन बताएंगे जिसकी वजह से आपका आर्म का साइज गेन  नहीं हो पाता है, साथ ही आर्म का साइज तेजी से गेन करने के लिए पूरी टिप्स बताएंगे।


 सबसे पहले हम बात करते हैं -

१) बाइसेप्स का साइज क्यों गेन  नहीं होता है ?

१) बाइसेप्स एक्सरसाइज के बारे में सही नॉलेज का ना होना
२) बाइसेप्स की एक्सरसाइज को रोज या फिर बार-बार करना
३) बाइसेप्स एक्सरसाइज लो वेट से करना और ज्यादा  रेप्स लगाना
४) बाइसेप्स की एक्सरसाइज को हैवीवेट से करने के कारण गलत टेक्निक से एक्सरसाइज करना
५) ट्राइसेप्स की एक्सरसाइज पर कम ध्यान देना बाइसेप्स पर ज्यादा मेहनत करना
६) बाइसेप्स की एक्सरसाइज में फ्री वेट यानी के डंबल्स रोड की एक्सरसाइज कम करना और मशीनों की ज्यादा एक्सरसाइज करना
 ७) अपने वेट और वर्कआउट के हिसाब से प्रोटीन और  कार्बोहाइड्रेट्स का डाइट में ना होना

 यह तो थे बाइसेप्स गेन न होने के  कारण, अब बात करते हैं -

Gym से पहले और gym के बाद क्या खाये 

२)  बाइसेप का साइज गेन करने के लिए इंपोर्टेंट टिप्स

१) बाइसेप्स की एक्सरसाइज आपको हफ्ते में एक बार या ज्यादा से ज्यादा दो बार करनी है. आ आप की एक्सरसाइज और ट्राइसेप्स की एक्सरसाइज एक ही दिन में या फिर अलग-अलग दिन भी कर सकती  हो.
 २) बाइसेप्स की एक्सरसाइज सही टेक्निक्स से करें, सही टेक्निक से मतलब है की आपको आपकी आर्म्स की एक्सरसाइज में  हिलना डुलना नहीं है. तेजी से स्पीड से नहीं करनी है और जिस पार्ट की एक्सरसाइज कर रहे हो उस पार्ट पर लोड दे.
३) आर्म्स की एक्सरसाइज में मार्बल से होने वाली एक्सरसाइज पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान दें और साथ में इन एक्सरसाइज में ज्यादा से ज्यादा वेट भी ले,  ज्यादा वेट से मतलब है ऐसा वेट ले जिससे आप अपनी सारी ताक से ८ - १० रेप्स  निकाल सके.
४)  बाइसेप्स की एक्सरसाइज में बाइसेप्स से ज्यादा ट्राइसेप्स मसल को गेन करने पर ध्यान दें क्योंकि बाइसेप्स मसल्स आपके आर्म्स मसल्स का एक छोटा सा पार्ट है जो बहुत ही कम पड़ता है इससे विपरीत ट्राइसेप्स मसल्स बाइसेप्स के मुकाबले एक बड़ी मसल्स ग्रुप हैं जो कि तेजी से गेन किया जा सकता है. ट्राइसेप्स का साइज इजी से गेन करने के लिए ट्राइसेप्स वर्कआउट के स्टार्टिंग में ट्राइसेप्स डिप्स और सबसे लास्ट में ट्राइसेप्स  बेंच टिप्स जरूर करें।


५)  बाइसेप्स का वर्कआउट ज्यादा देर तक यानी १ घंटे से ज्यादा ना करें ४५ मिनट ६० मि. के बीच में अपना वर्कआउट पूरा करें
 ६) आर्म्स का साइज  तेजी से गेन करने के लिए  बाइसेप्स से ज्यादा अपनी पूरी बॉडी का साइज बढ़ाने पर ध्यान दें क्योंकि जैसे-जैसे आपका बॉडी का साइज बढ़ेगा वैसे वैसे आप का  बाइसेप्स का साइज ऑटोमेटिकली बढ़ जाएगा।
७) बायसेप का वर्कआउट करने के बाद अपने बायसेप को  कम से कम ३ घंटे का रेस्ट जरूर दे, अरिष्ट का मतलब है कि ३  घंटो तक कोई भी भारी काम अपने हाथों से ना करें  और अगर हो सके तो वर्कआउट करने के बाद १ से २  घंटों की नींद मिल जाए तो ज्यादा अच्छा है, क्योंकि सोते हुए आपकी टूटी हुई मसल्स बहुत तेजी से रिपेयर होकर एक बड़ी मसल्स के रूप में जुड़ती है।
 ८) बाइसेप्स का वर्कआउट करने से २०- ३० मि. बाद आपको २० - ३०  ग्राम तक लिक्विड प्रोटीन जरूर लेना है क्यों की इस टाइम हमारे मसल्स को प्रोटीन की जरूरत होती है.  लिक्विड प्रोटीन में आप कोई भी लिक्विड प्रोटीन इस्तेमाल कर सकते हो.  जैसे-  चॉकलेट प्रोटीन, होम मेड प्रोटीन,  व्हे प्रोटीन और वर्कआउट करने के १ घंटे बाद आप जो ब्रेकफास्ट या खाना खाओगे उसमें भी आपकी प्रोटीन डाइट का इस्तेमाल करना जरूरी है.  जैसे कि -  अंडे,  पनीर,  उबले हुए चने ,  उबला हुआ सोयाबीन पीनट बटर आदि.

९) अक्सर सभी लोग यह सोचते हैं डंबल या रोड में भारी वजन भरकर ऊपर उठाना और नीचे लाना ही  बाइसेप्स साइज गेन एक्सरसाइज है अगर आप भी ऐसा सोचते हैं या ऐसा करते हैं तो आपकी यह सोच बिल्कुल गलत है.
१०) जब भी आप बाइसेप्स की एक्सरसाइज  करते हो तो आप उस समय इतना ही वजन अपनी राड या डंबल में ले जितना आप आसानी से कंट्रोल कर सके.  

११) वजन कंट्रोल करने से मतलब है आप इतने वेट से एक्सरसाइज करें जितने वेट से आप अपने  डंबल  या रोड को आहिस्ता आहिस्ता खिंचाव के साथ ऊपर उठा सकूं। और फिर आहिस्ता आहिस्ता खिंचाव के साथ नीचे ला सकूं ताकि आपकी बाइसेप्स मसल्स की हर एक मांसपेशी की एक्सरसाइज पूरी तरह हो सके और आपकी बाइसेप्स पूरी तरह ग्रो हो सके।     
 तो दोस्तों आप बस यह इंपोर्टेंट टिप्स फॉलो करें और फिर देखिए आपके आर्म्स का साइज कितना तेजी से गेन होगा।

१२) दोस्तों यह बात भी अच्छी तरह से समझ ले बाइसेप्स की एक्सरसाइज में ज्यादा वेट लेने से एक बार वह आदमी अपने  वजन को खिंचाव के साथ उठा सकता है पर नीचे खिंचाव के साथ नहीं ला सकता है. ज्यादा वजन अपने हाथों को झटके से नीचे ले आता है जिसके कारण आपके बाइसेप्स मसल्स पर पूरी ही तरह लोड नहीं  पड़ता है और इसी कारण आपके  बाइसेप्स की ग्रो भी रुक जाती हैं.
 तो कृपया एक्सरसाइज में वजन उतना ही लेना चाहिए जितना कि आप आसानी से कंट्रोल कर सके.


१३) दोस्तों आप बाइसेप्स की एक्सरसाइज करें या ट्राइसेप्स की आपको अपने एक्सरसाइज की सही फॉर्म यानी टेक्निक पर ध्यान देना बहुत जरुरी है ताकि आपकी बाइसेप्स की मसल्स पूरी तरह ग्रो हो सके मतलब की, आप बाइसेप्स की कोई भी एक्सरसाइज करें एक्सरसाइज करते वक्त बाइसेप्स के रोड डंबल को ऊपर उठाते समय और नीचे लाते समय अपने दोनों  कोहनियों को अपने बदन से एक जगह चिपका ले और हिलने ना दे.

अगर आप की कोहनी हिलेगी तो आपकी बाइसेप्स मसल्स पर कोई लोड नहीं पड़ेगा और इसी तरह हां जब भी आप ट्राइसेप्स की एक्सरसाइज  डंबल, बारबल  कहीं से भी करें आपको अपनी कहानी अंदर की ओर रखनी है. खिलौने नहीं देनी है. अगर हिली तो समझो आप की एक्सरसाइज सही तरीके से नहीं कर रहे हो।

१४) दोस्तों काफी लड़के बाइसेप्स की एक्सरसाइज करते वक्त अपने कलाई की एक्टिविटी पर ध्यान नहीं देते हैं जो की बहुत गलत है दोस्तों जब भी आप बाइसेप्स की एक्सरसाइज करो और वेट को ऊपर उठाओ तो उस वक्त अपने हाथों की कलाई को अंदर की और जरुर घूम आए. और  फिर नीचे लाते वक्त नॉर्मल छोड़ दे ऐसा करने से आपके फोर आर्म्स तो बनेंगे ही साथ में आपकी  बाइसेप्स गोल यानी कि अंडा पूरी तरह से बन जाएगा क्योंकि कलाई अंदर की और करते वक्त आपकी बाइसेप्स की सारी मसल्स  सिकुड़कर गोलाई के रूप में बाहर की ओर निकलने को जोर लगाती हैं. जिस कारण आपकी बाइसेप्स कि नस भी चमकने लगती है.

१५)  एक्सरसाइज की पूरी तरह सही जानकारी का ना होना-  जब तक आप को यही मालूम नहीं होगा की, हम जो एक्सरसाइज कर रहे हैं वह हमारे आर्म्स की किस मसल्स पार्ट की एक्सरसाइज है तो आप उस मसल्स पर पूरी तरफ फोकस नहीं कर पाओगे।
जिस व जहां से आप एक्सरसाइज करने का फायदा बहुत कम होगा।

१६)  आप बाइसेप्स और ट्राइसेप्स कोई भी एक्सरसाइज करें वह एक्सरसाइज जब तक सही तरीके से नहीं करोगे तब तक आपको कोई फायदा नहीं होगा।

१७)  दोस्तों आप कोई भी काम करें आपके दिमागी सोच का  उस काम पर बड़ा परिणाम पड़ता है इसी तरह जब आप जिम में वर्कआउट करते हो और आपका दिमाग बाहर होता है तो आप कुछ और ही सोच रहे होते हैं तो ऐसे में आपको वर्कआउट करने का कोई फायदा नहीं मिल पाएगा।

 तो इसलिए कृपया जब भी आप जिम में जाएं तो आप अपना दिमाग पूरी तरह अपने एक्सरसाइज और उस मसल्स पर फोकस करें जिसकी आप एक्सरसाइज कर रहे हो तभी आपको जिम वर्कआउट करने का फायदा मिलेगा।

१८)  न्यूट्रिशन डाइट -  दोस्तों सबसे बड़ी गलती इंसान यह करता है कि वह जिम करने के बाद अपने बॉडी को जरूरत के हिसाब से न्यूट्रिशन डाइट यानी पोषण युक्त आहार नहीं देता है, जिस कारण आपके आर्म्स की मसल्स कभी भी ग्रो नहीं होती है.

 तो इसलिए वर्कआउट से पहले और वर्कआउट के बाद अपने मसल्स की जरूरत के हिसाब से अपने मसल्स को ग्रो  करने के लिए पोषणयुक्त डाइट यानी प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, विटामिन, हेल्थी फ़ूड युक्त डाइट जरूर दें वर्कआउट से पहले वर्कआउट के बाद.


 तो दोस्तों यह थी वह जरूरी जानकारी जिसके साथ आप अपने बाइसेप्स को अच्छी तरह से ग्रो कर सकते हैं यदि आप यहां टिप्स फॉलो करते हैं तो आपको अपने बाइसेप्स ग्रो करने में अच्छी हेल्प मिल सकते हैं.

यह आर्टिकल भी जरूर पढ़े 

मसल्स कैसे बनाये मसल गेन फूड्स 
बॉडी बनाने के ३ टिप्स

No comments